इस भारतीय गेंदबाज ने हैट्रिक लेकर इतिहास रच दिया।

हर गेंदबाज चाहता है कि वह 3 बॉल में 3 विकेट लेकर हैट्रिक बनाएं अगर कोई गेंदबाज अपने क्रिकेट कैरियर के शुरुआत में ही हैट्रिक ले ले तो उसके लिए वह काफी बड़ी बात होगी इतना ही नहीं वह क्रिकेट की दुनिया में एक जाना माना बॉलर साबित हो जाएगा.

क्रिकेट जगत में इकलौता कारनामा

जी हां यह, सच है। हाल ही में हुए रणजी मैच में एक अनजान गेंदबाज ने यह कारनामा कर दिखाया। उस गेंदबाज ने पहले ओवर में लगातार तीन विकेट लेकर एक रिकॉर्ड बना दिया। यानी यह एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है इस अनोखे कृति मान के मालिक बने इस गेंदबाज से जब न्यूज़ चैनल वालों ने बातचीत करी तो उसने अपनी कामयाबी की ये कहानी बताएं।

यूपी का तेज गेंदबाज एमपी में छा गया

तो चलिए बताते हैं आपको इस गेंदबाज के बारे में यह गेंदबाज उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद के रहने वाला है जो बाएं हाथ की तेज गेंद फेंकता है। इस गेंदबाज का नाम रवि यादव है और रवि यादव की उम्र 28 साल है। रवि ने 28 साल की उम्र में मध्यप्रदेश की ओर से रणजी ट्रॉफी में यह कीर्तिमान हासिल किया है। मजे की बात यह है कि रवि ने मध्य प्रदेश की टीम से खेल कर अपनी जन्म भूमि उत्तर प्रदेश टीम के खिलाफ यह कारनामा करा है।

रवि ने बताया उत्तर प्रदेश फिरोजाबाद में क्रिकेट का एक अच्छा माहौल नहीं है उन्होंने बताया कि वह स्पोर्ट्स कॉलेज लखनऊ से चयन होकर 2004 से 2008 तक वह वहां पर खेले। लेकिन कुछ साल बाद उनके घुटने और पीठ में चोट लगने के कारण उन्होंने खेल से दूरी बना ली उन्होंने बताया कि वह जहां से खेल रहे थे वहां से सुरेश रैना और आरपी सिंह भी भारतीय टीम में सेलेक्ट हुए हैं।

क्रिकेटर बनने के लिए रेलवे की नौकरी छोड़ी

रवि ने बताया कि उन पर क्रिकेट का ऐसा जुनून सवार था कि उन्होंने रेलवे की नौकरी को भी ठुकरा दिया उनके घर का बिजनेस कुछ ठीक नहीं चल रहा था। जब यह बात उनके घर वालों को पता चली तो वह काफी परेशान हुए लेकिन उन्होंने ठान रखी है कि मैं 1 दिन अपना और अपने परिवार वालों का नाम रोशन करेंगे बस उन्हें एक मौके की जरूरत है।